More

    राकेश टिकैत सरकारी संपत्ति बिक रही है देश को बचाना ही किसान का पहला मकसद है

    भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत किसान कृषि कानून को लेकर दिल्ली की सीमाओं को अवरुद्ध कर रखा है, लगभग चार महीनों से लगातार कृषि कानून के खिलाफ सरकार के सामने अपना विरोध दर्ज कराते हैं और सरकार पर लगातार दबाव बनाते हैं। सरकार झुकने का नाम नहीं ले रही है। किसान तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग पर अड़े हैं। सरकार चाहती है कि इन कानूनों में सुधार किया जाए। किसान संगठनों का कहना है कि इस कानून को निरस्त किया जाना चाहिए केंद्र सरकार और किसान संगठनों के बीच 12वीं बार वार्ता हो चुकी है जिसका कोई निर्णय निकला नहीं आज तक

    किसान संगठन अलग-अलग रणनीति बनाते रहते हैं। यह सरकार है जो अपने चुनाव अभियान में लगी हुई है, किसान संगठनों की सरकार के पास उनकी आवाज सुनने का समय नहीं है। सरकार विभिन्न राज्यों में जाकर प्रचार कर रही है, जबकि किसान संगठन भी उन राज्यों में जा रहे हैं और सरकार के खिलाफ वोट नहीं देने की दलील दे रहे हैं, जिसमें सर्वोच्च किसान नेता राकेश टिकैत की भूमिका सबसे ज्यादा है वह हमेशा किसानों की लड़ाई लगातार लड़ रहे हैं और वह अपना सरकार के खिलाफ विरोध सोशल मीडिया पर साझा करते रहते हैं

    सुनिए नेता राकेश टिकैत ने आज क्या कहा

    भारतीय किसान यूनियन राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत सरकार के खिलाफ अपने सोशल मीडिया पर अपनी बातों को रखते हैं और अपनी रणनीति सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं आज उन्होंने क्या कहा सुनिए

    किसान नेता राकेश टिकैत सरकार को निशाना बनाते हुए कहा सरकारी संपत्ति लगातार बिक रही है देश को बचाना ही किसान का पहला मकसद है

    किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा देश का किसान बर्बाद हो गया है यदि यदि काले कानून लागू हुए तो किसान पूर्ण रूप से बर्बाद हो जाएगा उन्होंने कहा कि देश के किसानों को एकजुट करने के लिए सारे देश का भ्रमण कर रहा हूं किसान नेता राकेश टिकट लोगों से अपील करते हुए कहा कि कल मैं सुबह 11:00 बजे शहीद ए आजम भगत सिंह जी के शहादत दिवस पर राजस्थान के जयपुर के विद्याधर नगर स्टेडियम में आयोजित किसान महापंचायत में उपस्थित रहूंगा वह पंचायत को संबोधित करूंगा आप भी पहुंचे

    राकेश टिकैत ने कहा शांतिपूर्ण तरीके से विरोध करना हमारा अधिकार है बिजनौर में प्रदर्शन कर रहे युवाओं को किसानों को तुरंत रिहा करें प्रशासन अन्यथा कल जेल से फाटक खोल कर रखें कल शहीद दिवस पर और भी क्रांतिकारी आ रहे हैं

    ताजा समाचार

    ताजा समाचार

    Translate »