More

    CM योगी आदित्यनाथ का एलान

    मुख्यमंत्री उत्तरप्रदेश कि प्रदेश में कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं रहना चाहिए। लॉकडाउन अवधि के दौरान प्रशासन द्वारा सामुदायिक रसोई के माध्यम से धर्मार्थ, स्वयंसेवी आदि संगठनों के सहयोग से गरीब, जरूरतमन्द, श्रमिकों, निराश्रितों आदि को भोजन उपलब्ध कराया जाए. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को यह निर्देश शनिवार को लखनऊ स्थित अपने सरकारी आवास पर कोरोना वायरस के नियंत्रण हेतु लागू की गयी लॉकडाउन व्यवस्था की समीक्षा के दौरान दिये. कोरोना वायरस के नियंत्रण और इस महामारी से निपटने के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान विभिन्न व्यवस्थाओं के सुचारु संचालन के लिए राज्य सरकार द्वारा 11 कमेटियों का गठन किया गया है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथने कहा कि प्लम्बर, इलेक्ट्रिशियन जैसी आवश्यक सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए जिला प्रशासन द्वारा पास जारी किये जाएं. इस दौरान यह भी सुनिश्चित किया जाए कि कलेक्ट्रेट परिसर में पास के लिए भीड़ न होने पाये. योगी ने प्रमुख सचिव स्वास्थ्य की अध्यक्षता में गठित कमेटी को निर्देश दिये कि कोरोना वायरस कोविड-19 से बचाव व उपचार से सम्बन्धित सामानों की आवश्यकतानुसार खरीद सुनिश्चित कर ली जाए. उन्होंने कहा कि नोएडा में कोरोना पाजिटिव मामलों की संख्या सर्वाधिक है. नोएडा और गाजियाबाद में स्वास्थ्य और स्वच्छता आदि सुविधाओं को और सुदृढ़ किया जाए. उन्होंने अपर मुख्य सचिव (गृह) की अध्यक्षता में गठित कमेटी को जमाखोरी, कालाबाजारी, मुनाफाखोरी रोकने के लिए प्रभावी कार्रवाई करने, अपर मुख्य सचिव (राजस्व) की अध्यक्षता की कमेटी को शीघ्रातिशीघ्र कंट्रोल रूम स्थापित कर सूचनाओं का आदान-प्रदान सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए CM अरविंद केजरीवाल ने अपील की लोग दिल्ली छोड़ कर ना जायें उन के लिए ख़ाने पीने रहने का इंतज़ाम कर रही है सरकार दिल्ली के सारे स्कूलों में किराये दार गरीब लोगों को खाना बँटा गया बहुत सारे समाजिक लोग भी आगे बाढ़ कर लोगों को खाना कपड़ा लोगों में बँटे लोगों का कहना है की बुरे दिन टल जायेंगे सबर रखो आने वाला टाईम सब अच्छा होगा

    PUBLICO Latest Hindi News Live

    ताजा समाचार

    ताजा समाचार

    Translate »